Mahavir Mandir
MS Logo
BIHAR
line decor

दासोsहं कोसलेन्द्रस्य रामस्याक्लिष्टकर्मणः। हनूमान् शत्रुसैन्यानां निहन्ता मारुतात्मजः।।

    
line decor
       
 
 
 
 
  •  
    धर्मायण
     
     
    (धार्मिक, सांस्कृतिक एवं राष्ट्रीय चेतना की त्रैमासिक हिन्दी पत्रिका)
     
     
    आचार्य किशोर कुणाल
     
    संरक्षक- आचार्य किशोर कुणाल, सचिव, महावीर मन्दिर, पटना
     
    अतीत में धर्मायण के प्रसिद्ध सम्पादकगण  

    आचार्य किशोर कुणाल

    डा. श्रीरंजन सूरिदेव

       

    आचार्य सीताराम चतुर्वेदी

    पं. वंशदेव मिश्र

       

    प्रो. काशीनाथ मिश्र

    पं. मार्कण्डेय शारदेय

       
     
    पृष्ठ सं. 64, मूल्य- 15 रुपये मात्र, प्राप्तिस्थान- महावीर मन्दिर परिसर
     
             
     
    प्रधान सम्पादक- भवनाथ झा
    स. सम्पादक- श्री सुरेशचन्द्र मिश्र
    अतिथि सम्पादक- श्री मगनदेव नारायण सिंह
     
                 
     
           
     
    धर्मायण 86
    धर्मायण 87
    धर्मायण 88
           
     
    धर्मायण 81
    Dharmayan, vol. 83 धर्मायण 85  
     
    धर्मायण 80
    धर्मायण 81
    धर्मायण 82
    धर्मायण 83
    धर्मायण 84
    धर्मायण 85
     
      नवीनतम अंक संख्या 85, जनवरी-मार्च, 2015  
     
    संग्रहणीय अंक
     
    अक्टूबर-मार्च, 2015-16 अंक संख्या 88 विषय-सूची>>
    जुलाई-सितम्बर, 2015 अंक संख्या 87 विषय-सूची>>
    अप्रैल-जून, 2015 अंक संख्या 86 विषय-सूची>>
    जनवरी-मार्च, 2015 अंक संख्या 85 विषय-सूची>>
    अक्टूबर-दिसम्बर, 2014 अंक संख्या 84 विषय-सूची>>
    अप्रैल-सितम्बर, 2014 अंक संख्या 83 विषय-सूची>>
    जनवरी-मार्च, 2014 अंक संख्या 82 विषय-सूची>>
    नवम्बर-दिसम्बर, 2013 अंक संख्या 81 विषय-सूची>>
      अंक संख्या 80
    pdf
      अंक संख्या 79
    pdf
      अंक संख्या 78
    pdf
      अंक संख्या 77
    pdf
      अंक संख्या 76
    pdf
      अंक संख्या 75
      अंक संख्या 74
    pdf
      अंक संख्या 73
    pdf
      अंक संख्या 72
    pdf
      अंक संख्या 71
    pdf
      अंक संख्या 70
    pdf
      अंक संख्या 69
    pdf
      अंक संख्या 68
    pdf
      अंक संख्या 67
    pdf
      अंक संख्या 66
    pdf
      अंक संख्या 64-65
    pdf
      अंक संख्या 63
      अंक संख्या 62
      अंक संख्या 61
         

     

     

     

     

     

     

    World's largest Hindu temple

    The grand project

    of

    Mahavir Mandir,

    Patna

    धर्मायण की बिक्री हेतु पुस्तक विक्रेतागण आमन्त्रित हैं।

    सम्पर्क करें-

    कार्यालय, महावीर मन्दिर, पटना

    अथवा लिखें-

    mahavirmandir@gmail.com

    पत्रिका-प्राप्ति-स्थान के रूप में उनकी दुकान का नाम एवं पता यहाँ प्रकाशित किया जायेगा।

    डाक द्वारा कम से कम 10 प्रति प्राप्त करने हेतु सम्पर्क करें अथवा लिखें-

    mahavirmandir@gmail.com