Dharmayan Vol. 86

महावीर मन्दिर प्रकाशन


धर्मायण

(धार्मिक, सांस्कृतिक एवं राष्ट्रीय चेतना की त्रैमासिक हिन्दी पत्रिका)  
अंक संख्या 86, अप्रैल-जून, 2015
अंक के प्रमुख आकर्षण पृष्ठ सं. 64, मूल्य 15 रुपये मात्र, प्राप्ति स्थान- महावीर मन्दिर परिसर

आलेख सूची

  1. धर्म का शून्य-स्तर भवनाथ झा
  2. शास्त्राध्ययन-परम्परा का संरक्षण– आचार्य किशोर कुणाल
  3. हिन्दी के प्रचार-प्रसार में धर्मसंवाहक सन्तों की भूमिका– डा. श्रीरंजन सूरिदेव
  4. ऋक्-संहिता में सूर्य-डा. किरण कुमारी
  5. वैष्णव-सन्त तुलसीदास की अन्तर्यात्रा (गतांक से आगे)– डा. राजेश्वर नारायण सिन्हा
  6. शिवताण्डव स्तोत्र (हिन्दी पद्यानुवाद)– अनु. गोपाल भारतीय
  7. चरैवेति– प्रो. चन्द्रशेखर द्विवेदी ‘भारद्वाज’  
  8. श्रीगुप्तधाम की यात्रा– श्री घनश्याम दास ‘हंस’
  9. राजा परीक्षित् को शृङ्गी ऋषि का शाप– डा. जय नन्दन पाण्डेय
  10. हिन्दी धार्मिक फिल्मों का स्वर्णिम अतीत– श्री ओम प्रकाश सिन्हा
  11. भारतीय वाङ्मय में माँ का स्वरूप– श्री युगल किशोर प्रसाद
  12. ज्योतिष की दृष्टि से कैंसर का विश्लेषण– डा. राजनाथ झा
  13. एवं अन्य स्थायी स्तम्भ-प्रवचन, देवस्तुति, मन्दिर समाचार-परिक्रमा, संस्कृत-शिक्षा आदि