Dharmayan vol. 82

धर्मायण

(धार्मिक, सांस्कृतिक एवं राष्ट्रीय चेतना की त्रैमासिक हिन्दी पत्रिका)
अंक संख्या 82,

जनवरी-मार्च, 2014

पृष्ठ सं. 64, प्राप्तिस्थान- महावीर मन्दिर परिसर

आलेख-सूची

  1. लक्ष्मीहृदय-स्तोत्रम् – सं. भवनाथ झा एवं सुरेशचन्द्र मिश्र
  2. श्रीनारायणहृदय-स्तोत्रम् -बृहत् सत्यनारायणपूजाप्रकाश से
  3. रघुवंश में दिव्यानुभूतियों की एक झलक -श्री सुरेशचन्द्र मिश्र
  4. त्याग के प्रतीक- महात्मा भरत डा. मोना बाला
  5. समानोत्थानवादी सन्त कबीर -श्री गौरीशंकर मिश्र
  6. स्वस्थ जीवनशैली अपनायें और नीरोग रहें -डा. जितेन्द्र कुमार सिंह
  7. महाकाव्य-चिन्तन : आलोचक एवं रचनाकार के विचार -डा. पण्डित विनय कुमार
  8. भारत में सौर उपासना की प्राचीनता -श्री पवन कुमार
  9. सूर्य के विभिन्न प्रकार की मूर्तियों का उल्लेख -भवनाथ झा
  10. विस्मयकारी है स्वप्नों का संसारश्रीमती सपना