महावीर मन्दिर देश के प्रमुख मन्दिरों में क्यों माना जाता हैं?

यह देश का एक मात्र हनुमान मन्दिर है जहाँ एक ही गर्भगृह में हनुमानजी के दो विग्रह हैं। यह आस्था है कि इनमें से एक दुष्टों का संहार करते हैं तथा दूसरे भक्तों की कामना पूर्ण करते हैं। इसे ‘मनोकामना-पूरन मन्दिर’ कहा जाता है।

महावीर मन्दिर में मनायी गयी देवोत्थान एकादशी

प्रेस रिलीजमहावीर मन्दिर में मनायी गयी देवोत्थान एकादशी आज दिनांक 25 नवम्बर, 2020 को अन्य वर्षों की भाँति देवोत्थान एकादशी का पर्व मनाया गया। सन्ध्या 6 बजे में मन्दिर के … Read More

महावीर मन्दिर, पटना हेतु निम्नलिखित पदों के लिए आवेदन आमंत्रित किये जाते हैं।

प्रकाशन की तिथि- 04THऑक्टूबर 2020 से 18 ऑक्टूबर 2020 आवश्यकतामहावीर मन्दिर, पटना हेतु निम्नलिखित पदों के लिए आवेदन आमंत्रित किये जाते हैं- (1) प्रबन्धक (2) सह प्रबन्धक (3) मेस पर्यवेक्षक … Read More

dharmayan vol.100 Surya-Upasana Ank

महावीर मंदिर की ओर से प्रकाशित धर्मायण पत्रिका का 100वाँ अंक कई अर्थों में विशेष है। इस अंक में सूर्य की उपासना एवं इसकी महत्ता पर विशेष सामग्री प्रकाशित है। … Read More

रामावत संगत (दीक्षा हेतु निर्देश)

रामावत संगतजात-पाँत पूछे नहीं कोय, हरि को भजे सो हरि को होय।“जय सियाराम, जय हनुमान, संकटमोचन कृपानिधान ।।Download booklet of Ramavat SangatDownload Application Form for ‘Ramavat Sangat Diksha’नमोऽस्तु रामाय सलक्ष्मणाय … Read More

महावीर मन्दिर में अन्य वर्षों की भाँति श्रद्धालुओं के लिए दुर्गापूजा में कलश स्थापना की व्यवस्था की गयी है।

महावीर मन्दिर में अन्य वर्षों की भाँति श्रद्धालुओं के लिए दुर्गापूजा में #कलश_स्थापना की व्यवस्था की गयी है। इस बार यह कलश स्थापना प्रथम तल पर स्थित दुर्गामन्दिर में होगी। … Read More