श्री मार्कण्डेय शारदेय

मार्कण्डेय शारदेय आधिकारिक नाम- मार्कण्डेय मिश्र पिता- स्व॰ रामचंद्र मिश्र, जन्मतिथि- 12-10-1962,
जन्मस्थान– टेढ़ी बाज़ार, डुमराँव, जिला- बक्सर (बिहार)
शिक्षा- एम. ए., संस्कृत (मगध विश्वविद्यालय)Continue Reading

श्री कमलेश पुण्यार्क

विशुद्ध गृहस्थ आश्रम में रहकर, श्रीयोगेश्वर आश्रम का संचालन करते हुए,“ सर्वेभवन्तु सुखिनः, सर्वे सन्तु निरामयाः”का पावन संकल्प लेकर, योग और नाड्योपचारतन्त्र के प्रचार-प्रसार में आपने काफी भ्रमण भी किया है ।Continue Reading

आचार्य सीताराम चतुर्वेदी

आचार्य सीताराम चतुर्वेदी भारतीय गम्भीर अध्येता, निष्ठावान अध्यापक, कुशल प्रशासक, प्रौढ़ समीक्षक, अनेक भाषाओं के विद्वान, श्रेष्ठ नाटककार, अभिनेता, प्रयोक्ता, उच्चकोटि के साहित्यकार, संगीतज्ञ, भाषा, संस्कृति एवं मान्यताओं के प्रबल पक्षधर थे।Continue Reading

श्रीरंजन सूरिदेव

महावीर मन्दिर से प्रकाशित धर्मायण पत्रिका के लिए यह गौरव का विषय है कि श्रीरंजन सूरिदेव जैसे विद्वान् इसके सम्पादक रहे हैं। पत्रिका-परिवार की ओर से उनका नमनContinue Reading

डा. रामाधार शर्मा

राष्ट्रीय व अर्न्तराष्ट्रीय जर्नलों में गणित तथा तकनीकि विषयों पर १० शोध पत्र ।
राष्ट्रीय पत्रिकाओं में दर्जनों आलेख ।
पूज्य गुरुदेव चित्रकूट पीठाधीश्वर जगद्गुरु रामानन्दाचार्य स्वामी रामभद्राचार्य कृत निम्नांकित पुस्तकों का सह-सम्पादन/सम्पादन –Continue Reading

तनाव रहित समाज निर्माण, सामाजिक सद्भाव एवं सौहार्द इनका मुख्य उद्देश्य रहा है। इनका प्रसिद्ध नारा है- धर्म की जय हो, आडम्बर का नाश हो, सम्पूर्ण विश्व एक परिवार।Continue Reading

डा. एस.एन.पी. सिन्हा

पटना मेडिकल कालेज में फ़ार्माकोलौजी एवं थिरेपेटिक विभाग में विभिन्न पदों पर अध्यापन करते हुए 1995 ई. में अवकाश ग्रहण कर जनवरी, 1995 ई. से 1998 ई. तक पटना विश्वविद्यालय के कुलपति पद को सुशोभित किया।Continue Reading

Dr. Kashinath Mishra

मुख्य रूप से अंगरेजी भाषा एवं साहित्य के अध्येता डा. काशीनाथ मिश्र वर्तमान में अंगरेजी के अध्यापक हैं। धर्मायण पत्रिका के लिए…..Continue Reading